शुक्रिया बाबा साहेब

 

Gurinder Azad गुरिंदर आज़ाद

शुक्रिया बाबा साहेब !
आपके चलते
हमें किसी से कहना नहीं पड़ता
कि हम भी इंसान हैं !

gurinders tribute

उनके अहं को जो भी हो गवारा
लेकिन अब तस्दीक हो चुका है
कि बराबरी थाली में परोस कर नहीं मिलती
आबरू की धारा किसी वेद से नहीं निकलती
बड़ा बेतुका है
कल्पना करके सोना
सुबह अलग सा कोई नज़ारा होगा
या धीरे धीरे सब सही हो जायेगा
अपनेआप !

कुछ मुद्दों पर कोई बहस नहीं होती
जैसे रियायतों में ढला इन्साफ
वेदों धर्मों के मुंह से कंटी छँटी इंसानियत का जाप

कुछ चीज़ों से समझौते नहीं हो सकते
जैसे कि भगवी विचारधारा से

कुछ लड़ाईयां जड़ों की होती हैं
ज़मीन से जुडी होती हैं
वजूद में पिघली होती है
आज हम इन सबसे
खूब आशना हैं !

शुक्रिया बाबा साहेब कि आपके चलते
मैं ये सब लिख पा रहा हूँ
डंके की चोट पे !

~~~

Other Related Articles

MODI-fest or MODI-jest: Making of Deaf India
Tuesday, 23 May 2017
  Mangesh Dahiwale As predicted, the RSS/BJP Government is going for a massive public campaign to display the achievements of the Government after three years. The campaign will be run from a... Read More...
भारतीय सिनेमा का सुपरस्टार - जातिवाद और सामंतवाद का सहज उत्पाद
Monday, 22 May 2017
  संजय जोठे (Sanjay Jothe) विश्व सिनेमा में धाक जमाने वाले फ्रेंच निर्देशक गोडार्ड... Read More...
Dalit Bahujan Missionary Efforts in North Karnataka
Friday, 19 May 2017
  Rohan Arthur And again I say unto you, It is easier for a camel to go through the eye of a needle, than for a rich man to enter into the kingdom of God. - Matthew 19:24 Religion is for man and... Read More...
Release of 'What Babasaheb Ambedkar Means to Me' eBook: Get your free copy!
Wednesday, 17 May 2017
  The Shared Mirror Publishing House We are happy to share news of the release of our second book. 'What Babasaheb Means to Me' is an edited volume that compiles articles by authors on Round... Read More...
Guru's 'Ethics in Ambedkar's Critique of Gandhi': An exercise in rhetoric
Tuesday, 16 May 2017
  Mangesh Dahiwale Gopal Guru is an erudite scholar and a political scientist of high reputation. His command over political theories is a sign of his scholarship. However the above-mentioned... Read More...

Recent Popular Articles

Index of Articles in Features
Sunday, 07 May 2017
  2016 ~ Uniform Civil Code & Ashrafiya obsession with Triple Talaq by Ayaz Ahmad ~ Maratha Kranti (Muk) Morcha: When will Maratha women cross the threshold? by Sandhya Gawali ~... Read More...
Babasaheb Dr. B. R. Ambedkar's speech in the Constituent Assembly on 25th November 1949
Saturday, 26 November 2016
  Babasaheb Dr. B. R. Ambedkar's speech in the Constituent Assembly on 25th November 1949 Sir, looking back on the work of the Constituent Assembly it will now be two years, eleven months and... Read More...
Fight against the Misogyny & Casteism of 'Best Indian Memes for Creamy Teens', FB page
Friday, 06 January 2017
  Vinay Shende "My final words of advice to you are Educate, Agitate and Organize; have faith in yourself. With justice on our side I do not see how we can lose our battle. The battle to me is a... Read More...
Presenting Angela Davis, the Savarna Style
Wednesday, 21 December 2016
  Sukanya Shantha On Friday, a friend and I walked into a movie hall to watch an American romantic musical, La La Land. Enticed by the cinematic beauty and the dreamy two hours spent in the... Read More...
Gangrape and Murder of a 16 year old Dalit girl in Sendurai, Tamil Nadu
Saturday, 21 January 2017
  (A condensed translation, by Trevor Jeyaraj, of Mr. Venpura Saravanan's Facebook post in Tamil ) N (16), daughter of Rajendran R of Sendurai taluk in Ariyalur district, Tamil Nadu, who... Read More...

Recent Articles in Hindi

पेरियार से हम क्या सीखें?

पेरियार से हम क्या सीखें?

  संजय जोठे  इस देश में भेदभाव और शोषण से भरी परम्पराओं का विरोध करने वाले अनेक विचारक और क्रांतिकारी हुए हैं जिनके बारे में हमें बार-बार पढ़ना और समझना चाहिए. दुर्भाग्य से इस देश के शोषक वर्गों के षड्यंत्र के कारण इन क्रांतिकारियों का जीवन परिचय और समग्र कर्तृत्व छुपाकर रखा जाता है. हमारी अनेकों पीढियां इसी षड्यंत्र में जीती आयीं हैं. किसी देश के उद्भट विचारकों और क्रान्तिकारियों को इस...

Read more

कृष्ण: भारतीय मर्द का एक आम चेहरा...!

कृष्ण: भारतीय मर्द का एक आम चेहरा...!

(कृष्ण की लोक लुभावन छवि का पुनर्पाठ!)मानुषी आखिर ये मिथकीय कहानियां किस तरह की परवरिश और शिक्षा देती हैं, जहां पुरुषों को सारे अधिकार हैं, चाहे वह स्त्री को अपमानित करे या दंडित, उसे स्त्री पलट कर कुछ नहीं कहती। फिर आज हम रोना रोते हैं कि हमारे बच्चे इतने हिंसक और कुंठित क्यों हो रहे हैं। सारा दोष हम इंटरनेट और टेलीविजन को देकर मुक्त होना चाहते हैं। जबकि स्त्री...

Read more

राष्ट्रवाद और देशभक्ति

राष्ट्रवाद और देशभक्ति

संजय जोठे धर्म जो काम शास्त्र लिखकर करता है वही काम राष्ट्र अब फ़िल्में और विडिओ गेम्स बनाकर बनाकर करते हैं. इसी के साथ सुविधाभोगी पीढ़ी को मौत से बचाने के लिए टेक्नालाजी पर भयानक खर्च भी करना पड़ता है ताकि दूर बैठकर ही देशों का सफाया किया जा सके, और यही असल में उस तथाकथित “स्पेस रिसर्च” और “अक्षय ऊर्जा की खोज” की मूल प्रेरणा है, यूं तो सबको...

Read more