The Written World and Dalit Bahujan and Adivasi Women - SAVARI's Editor Sruthi Herbert

 

Gurinder Azad

SAVARI describes itself as: "We are adivasi, bahujan and dalit women. Here we share our thoughts about our lives and the society we live in, including conflicts with the self, family and community. These are perspectives from our history, and our dreams for the future. Here we are in conversations with each other, with the men from our communities, and others. Inspired by our foremothers, the free spirited, knowledge bearing, community healers of the Saura people, this space is named Savari"

sruthi video interview

As part of the Ambedkar Age series of interviews and conversations on contemporary socio-political issues which affect the Dalit Bahujans, Gurinder Azad produced and recorded an interview with Sruthi Herbert, one of the editors of SAVARI, titled 'The Written World and Dalit Bahujan and Adivasi Women -- SAVARI's editor Sruthi Herbert'. 

Kuffir, Contributing Editor of Round Table India (http://roundtableindia.co.in/), conducted this interview.

Sruthi and Kuffir converse here about the 5 year journey of SAVARI, as a space created, developed and sustained by Dalit Bahujan and Adivasi women writers, translators and editors. And on the written world of marginalized women in a multilingual society, the challenges of building a community based on shared experiences in a caste society, Brahmin patriarchy etc.

~~~

Other Related Articles

जट्टवाद एक दीर्घ रोग
Monday, 09 January 2017
  सरदार अजमेर सिंह (Sardar Ajmer Singh) (यह लेख सरदार अजमेर सिंह की बहुचर्चित किताब... Read More...
डॉ. अंबेडकर का बहुमूल्य मशवरा - सिखों के सवैशासन के अधिकार पर
Thursday, 13 October 2016
  सरदार अजमेर सिंह यह लेख सरदार अजमेर सिंह की किताब 'बीसवीं सदी की सिख... Read More...

Recent Popular Articles

डॉ. अंबेडकर का बहुमूल्य मशवरा - सिखों के सवैशासन के अधिकार पर
Thursday, 13 October 2016
  सरदार अजमेर सिंह यह लेख सरदार अजमेर सिंह की किताब 'बीसवीं सदी की सिख... Read More...

Recent Articles in Hindi

पेरियार से हम क्या सीखें?

पेरियार से हम क्या सीखें?

  संजय जोठे  इस देश में भेदभाव और शोषण से भरी परम्पराओं का विरोध करने वाले अनेक विचारक और क्रांतिकारी हुए हैं जिनके बारे में हमें बार-बार पढ़ना और समझना चाहिए. दुर्भाग्य से इस देश के शोषक वर्गों के षड्यंत्र के कारण इन क्रांतिकारियों का जीवन परिचय और समग्र कर्तृत्व छुपाकर रखा जाता है. हमारी अनेकों पीढियां इसी षड्यंत्र में जीती आयीं हैं. किसी देश के उद्भट विचारकों और क्रान्तिकारियों को इस...

Read more

कृष्ण : भारतीय मर्द का एक आम चेहरा...!

कृष्ण : भारतीय मर्द का एक आम चेहरा...!

(कृष्ण की लोक लुभावन छवि का पुनर्पाठ!)मानुषी आखिर ये मिथकीय कहानियां किस तरह की परवरिश और शिक्षा देती हैं, जहां पुरुषों को सारे अधिकार हैं, चाहे वह स्त्री को अपमानित करे या दंडित, उसे स्त्री पलट कर कुछ नहीं कहती। फिर आज हम रोना रोते हैं कि हमारे बच्चे इतने हिंसक और कुंठित क्यों हो रहे हैं। सारा दोष हम इंटरनेट और टेलीविजन को देकर मुक्त होना चाहते हैं। जबकि स्त्री...

Read more